April 1 से देश में कोई भी व्यक्ति बन सकता है Crorepati, बस करना होगा एक छोटा सा काम

April 1: हर कोई करोड़पति बनना चाहता है, लेकिन क्या करोड़पति बनना इतना आसान है। यक़ीनन बिलकुल भी नहीं, लेकिन नरेंद्र मोदी और GST की एक योजना ने इसे बहुत आसान कर दिया है। जी हाँ, अब कोई भी करोड़पति बन सकता है।

0

April 1: दुनियाभर में वैसे तो एक अप्रैल को मूर्ख दिवस यानी अप्रैल फूल के रूप में मनाया जाता है, लेकिन इस बार यह दिवस भारत के लोगों के लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाला है। सरकार वस्तु एवं सेवा कर में हेराफेरी रोकने के उपायों के तहत GST व्यवस्था के तहत एक अप्रैल से एक ऐसी लॉटरी शुरू करने की योजना बना रही है, जिसमें हर महीने दुकानदार और खरीदार के बीच सौदे के हर बिल को लकी-ड्रॉ में शामिल किया जाएगा।

एक अधिकारी ने बताया कि इस लॉटरी में उपभोक्ताओं को एक करोड़ रुपये तक का इनाम मिल सकता है। अधिकारी ने कहा कि यह लॉटरी योजना ग्राहकों को दुकानों से हर खरीद का बिल/रसीद मांगने को प्रात्साहित करने के लिए सोची गई है। इससे GST की चोरी रोकने में मदद मिलेगी। इस लॉटरी में भाग लेने के लिए इस तरह की कोई सीमा नहीं होगी कि रसीद न्यूनतम या अधिकतम किसी तय राशि की हो।

How will you take advantage?

लॉटरी में एक प्रथम विजेता चुना जाएगा, जिस पर बड़ा इनाम होगा। राज्यों के स्तर पर दूसरे और तीसरे विजेता भी चुने जाएंगे, इसमें भाग लेने के लिए उपभोक्ताओं को किसी भी खरीद की रसीद स्कैन करके अपलोड करनी होगी। GST नेटवर्क इसके लिए एक मोबाइल ऐप विकसित कर रहा है, यह ऐप इस महीने के अंत तक एंड्रॉयड और एप्पल यूजर्स के लिए उपलब्ध हो जाएगा।

Where will the reward be given

केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड के अधिकारी ने पिछले महीने कहा था कि इस लॉटरी में लाख रुपये से एक करोड़ रुपये तक के इनाम रखे जा सकते हैं। जीएसटी परिषद इस योजना पर 14 मार्च की बैठक में अपनी राय दे सकती है। इस लॉटरी का पैसा मुनाफाखोरी के मामलों में जुर्माने से आएगा, जीएसटी कानून में मुनाफाखोरी के खिलाफ कार्रवाई का प्रावधान है। इसमें दंड का पैसा उपभोक्ता कल्याण कोष में रखा जाता है।